Friday, May 21, 2010

वो सिर्फ मेरा हों......

Image and video hosting by TinyPic



कोई तो हो ऐसा जो सिर्फ मेरा हो

बातों में उसकी खुशबू हो
दिल में उसका बसेरा हो
चाहे तो सिर्फ चाहत मेरी
मांगे तो सिर्फ मोहब्बत मेरी

वो चाँद की चांदनी हो तो
चाँद सिर्फ मेरा हो

वो दिन की रौशनी हो तो
सूरज सिर्फ मेरा हो

वो फूलों की खुशबू हो तो
एहसास सिर्फ मेरा हो

वो रात का उजाला हो तो
चाँद सिर्फ मेरा हो

वो पानी की बूँद हों तो
दरिया सिर्फ मेरा हो

वो किस्मत की लकीर हो तो
हाथ सिर्फ मेरा हों

वो इश्क और महोब्बत हो तो
दिल सिर्फ मेरा हो

पलक

वो इश्क और महोब्बत हों तो
दिल सिर्फ मेरा हों

पलक

2 comments:

Anonymous said...

I am not the only one
Who can see that you are beautiful
But I am the only one
Who can see you belong to me

~Pearl...

Dheeraj Goel said...

Tum Chaho Jise Vo Pathar Bhi, Pighal Ke Hum-Safar Ban Jaenga.

Tum Chaho to To Vo Khuda Bhi, Kudh Insan Ban Jaenga.

Chahat Hai Ye, Jo Chalati Is Sare Sansar Ko.

Chahat Hai Ye Jo Sikhati Jeena Is Sansar Ko.