Saturday, March 14, 2009

Hakiqat....


कशिश दिल की हर चीज़ भुला देती है...
बाँध आंखों में सपने सजा लेती है...
सपनो की एक दुनिया जरुर रखना... क्यूँ की...
हकीकत तो अक्सर रुला देती है...


This is somelines for someone.. palak.. PG



1 comment:

Atharv said...

Nice pic.. and beautiful lines...